Tag Archives: Poem

Saint Tukaram Said


Saint Tukaram

Saint Tukaram

Time will submit to slavery
from illusionís bonds we’ll be free
everyone will be
powerful and prosperous –
Brahman, Ksatriya, Vaishya, Shudra
and Chandala all have rights
women, children, male and female
and even prostitutes.

– Saint Tukaram

Check also

Advertisements

Leave a comment

Filed under Caste Discrimination, Dalit-Bahujans, Dr B R Ambedkar

तब तुम क्या करोगे?


यदि तुम्हें,
धकेलकर गांव से बाहर कर दिया जाय
पानी तक न लेने दिया जाय कुएं से
दुत्कारा फटकारा जाय चिल-चिलाती दोपहर में
कहा जाय तोड़ने को पत्थर
काम के बदले
दिया जाय खाने को जूठन
तब तुम क्या करोगे?

यदि तुम्हें,
मरे जानवर को खींचकर
ले जाने के लिए कहा जाय
और
कहा जाय ढोने को
पूरे परिवार का मैला
पहनने को दी जाय उतरन
तब तुम क्या करोगे ?

यदि तुम्हें,
पुस्तकों से दूर रखा जाय
जाने नहीं दिया जाय
विद्या मंदिर की चौखट तक
ढिबरी की मंद रोशनी में
काली पुती दीवारों पर
ईसा की तरह टांग दिया जाय
तब तुम क्या करोगे?

Continue reading

2 Comments

Filed under Caste Discrimination, Casteism, Dalit-Bahujans, Dr B R Ambedkar, Equal Rights, Women RIghts